Blogger Widgets
धर्मजागृति,हिन्दू-संगठन एवं राष्ट्ररक्षा हेतु साधकों द्वारा साधनास्वरूप आर्थिक हानि सहते हुए भी चलाया जानेवाला एकमात्र पाक्षिक !
आश्‍विन शुक्ल पक्ष १ - आश्‍विन शुक्ल पक्ष १४,
कलियुग वर्ष ५११८ (१ से १५ अक्टूबर २०१६)

पाठकोंसेविनती


कुछ समय पूर्वही हम अपने नए पते sanatanprabhat.org पर स्थानांतरित हुए हैं। कृपयाआगे से हमसे उपरोक्त पते पर मिलें।

उत्तरप्रदेश में राहुल गांधी की खाट सभा समाप्त होते ही लोग उठा ले गए खाटों को !

    देवरिया (उत्तरप्रदेश) - उत्तरप्रदेश में कांग्रेस एक अभिनव पद्धति से प्रचार कर रही है । मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों के निषेध स्वरूप कांग्रेस ने देवरिया से दिल्ली, इस प्रकार किसान यात्रा आयोजित की है । इस यात्रा का आरंभ करने हेतु कांग्रेस ने ६ सितंबर को देवरिया में खाट सभा आयोजित की थी । सभा में आनेवाले श्रोताआें के बैठने हेतु सभास्थल पर खाटें रखी गई थीं । सभा में लोग एकत्रित हुए । राहुल गांधी का भाषण भी हुआ; परंतु राहुल गांधी के सभास्थल से जाते ही उपस्थित लोगों में खाट ले जाने हेतु छीना-झपटी होने लगी । कोई सिर पर तो कोई कंधे पर खाट लेकर भागने लगा । कुछ लोगों में खाट प्राप्त करने के लिए झगडे भी हो गए ।  (६ सितंबर)

हिन्दुओ, विजयोपासना आरंभ करें !

 विजयादशमी के निमित्त परात्पर गुरु डॉ. आठवलेजी का संदेश !
परात्पर गुरु) डॉ. जयंत आठवले
    शुंभ, निशुंभ, महिषासुरादि बलशाली दैत्यों पर महादुर्गा ने तथा अहंकारी रावण पर श्रीराम ने विजय प्राप्त की, वह दिन था विजयादशमी  ! दशहरा केवल देवताआें के विजय का स्मरण करने का ही त्यौहार नहीं; विजिगीषा (विजय पाने की इच्छा) वृत्ति का संवर्धन करने का दिन है । इसीलिए इस दिन राक्षसी प्रवृत्ति पर विजय प्राप्त करने हेतु हिन्दू धर्म में विजयोपासना बताई गई है । दशहरे के दिन विजयप्राप्ति हेतु अपराजिता देवी की एवं शत्रु का संहार करनेवाले शस्त्रों की पूजा की जाती है । पश्‍चात शत्रु के पराजय के लिए सीमोल्लंघन किया जाता है ।

आश्रम में नार्कोटिक औषधियां मिलने का आरोप झूठा !

  •  गणेशचतुर्थी को एसआइटी ने की पनवेल स्थित सनातन आश्रम की जांच !
  • पत्रकार परिषद में पुलिस के आरोपों का खंडन !
    देवद (पनवेल, महाराष्ट्र) - कॉमरेड पानसरे हत्या प्रकरण की जांच करनेवाले पुलिस के विशेष जांच  दल (एसआइटी) ने ५ सितंबर को, गणेशचतुर्थी के दिन, यहां के सनातन आश्रम में आकर जांच आरंभ की । ३ - ४ गाडियों में ४० से ५० पुलिसकर्मी आए थे । उस समय वे अपने साथ सनातन के साधक आरोपी डॉ. वीरेंद्रसिंह तावडे को भी लाए थे । पुलिस ने आश्रम के चिकित्सा विभाग और वाहन विभाग की छानबीन की और एक साधक से पूछताछ की । इस समय जांच के नाम पर पुलिस ने साधकों का उत्पीडन किया । विशेष जांच दल के पुलिस अधीक्षक सुहेल शर्मा साधकों पर लगातार चिल्ला रहे थे । वे औषधियों के विषय में अपने को आश्रम के डॉक्टरों से अधिक जानकार समझकर, उन पर भी चिल्ला रहे थे ।

डॉ. तावडे ने जब कुछ किया ही नहीं है, तो वे जांचदल को अपेक्षित जानकारी कैसे देंगे ?

      
     कुछ समाचारपत्रों में छपा है कि कॉमरेड पानसरे हत्या प्रकरण के आरोपी सनातन के साधक डॉ. वीरेंद्रसिंह तावडे जांच में विशेष जांचदल का सहयोग नहीं कर रहे हैं, प्रश्‍नों के उत्तर संक्षेप में दिए तथा कुछ प्रश्‍नों के उत्तर देना टाला । डॉ. तावडे का हत्या से कोई संबंध ही नहीं है और उन्होंने कुछ किया ही नहीं है, तो वे जांचदल को अपेक्षित जानकारी कैसे दे सकते हैं ? जांचदल उन्हें को कितना भी पीटे, उन्होंने जो किया ही नहीं है, वह बताएंगे कैसे ?

क्या है भृगु और रावण संहिता ?

१. सप्तर्षियों में श्रेष्ठ तथा ब्रह्मदेव के मानसपुत्र महर्षि भृगु व उनके पुत्र शुक्राचार्य में कैलाश पर्वत के भृगु क्षेत्र में हुआ संवाद देवताआें के गुरु बृहस्पति ने लिखकर रखा । इसी को भृगुसंहिता कहते हैं । यह संहिता सत्ययुग में लिखी गई है ।
२. रावण शिवभक्त था, साथ ही भविष्य-विद्या का ज्ञाता था । रावण द्वारा लिखे शिव-पार्वती के संवाद को रावणसंहिता कहते हैं ।

डॉ. जाकिर नाइक की संस्था ने दान किए राजीव गांधी ट्रस्ट को ५० लाख रुपए !

देश में इतनी संस्थाएं होने पर भी इसी ट्रस्ट को दान करने का उद्देश्य खोजना चाहिए !
    नई देहली - पता चला है कि डॉ. जाकिर नाइक की संस्था, इस्लामिक रिसर्च फाउण्डेशन ने राजीव गांधी फाउण्डेशन को ५० लाख रुपए दान किए हैं । यह दान वर्ष २०११ में किया गया था । इस विषय में कांग्रेस कहती है कि यह राशि राजीव गांधी फाउण्डेशन को नहीं, राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट को दी गई है । कांग्रेस ने यह भी कहा है कि जाकिर के विवाद में फंसने पर दान की यह राशि कुछ महीने पहले लौटा दी गई है । (आतंकवादियों के आदर्श डॉ. जाकिर की संस्था से मिली दानराशि कांग्रेस पार्टी स्वीकारती है, तो इसमें आश्‍चर्य लगने जैसा कुछ नहीं है । क्योंकि, आतंकवादियों को बिर्यानी खिलाकर हिन्दुत्वनिष्ठों को आतंकवादी कहना, कांग्रेस का इतिहास है ! - संपादक)  (१० सितंबर)                          

हिन्दुत्वनिष्ठ : एक सॉफ्ट टार्गेट !

       
     कलियुग के अंतर्गत ७ वें कलियुग का अंतिम समय चल रहा है । इसमें, हिन्दुआें का राष्ट्रनिष्ठ और धर्मनिष्ठ होना, एक बडा अपराध माना जाने लगा है । सहिष्णु, सत्यनिष्ठ, राष्ट्र तथा धर्म से प्रेम करनेवाले हिन्दू प्राचीन काल से सबका लक्ष्य बनते रहे हैं । आज भी हिन्दुत्वनिष्ठों को लक्ष्य बनानेवालों में एक है, न्याय और सुव्यवस्था के लिए कार्यरत पुलिस नाम का प्रशासन !

पुलिस द्वारा की गई सनातन के निर्दोष साधकों की अमानुष प्रताडना !


नया स्तंभ प्रारंभ !
सनातन संस्था के विषय में द्वेष रखकर साधकों से अपमानजनक आचरण
करनेवाले
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुहेल शर्मा !  
सुहेल शर्मा

 कॉ. पानसरे हत्या प्रकरण की जांच करनेवाले विशेष अन्वेषण पथक ने ५ सितंबर को, ऐन गणेश चतुर्थी के दिन देवद, पनवेल स्थित सनातन आश्रम में जांच की । इस पथक के अधिकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुहेल शर्मा इस समय सनातन के प्रति द्वेष रखकर साधकों से अपमानजनक आचरण करते हुए दिखाई दिए । उनके विषय में साधकों को प्रतीत हुए सूत्र ...

(बोले) इको फ्रेंडली कुर्बानी अर्थात अब क्या मिट्टी का बकरा काटें ?

राष्ट्र्रवादी कांग्रेस के नेता नवाब मलिक का हिन्दूद्वेष !
अब तथाकथित आधुनिकतावादी, नास्तिक, बुद्धिवादी लोग
हिन्दुआें को उपदेश देते हैं, वैसे नवाब मलिक को पर्यावरणरक्षा का उपदेश देंगे ?
    मुंबई - नेता नवाब मलिक ने उपहासात्मक तथा निंदनीय प्रश्‍न पूछा है कि इको फ्रेन्डली कुर्बानी अर्थात अब मिट्टी का बकरा बनाकर और काटकर वह मिट्टी खाएं क्या ?  हिन्दुत्वनिष्ठों ने उनके उत्सवों के संदर्भ में होनेवाले अन्याय के विषय में सूत्र बताते हुए प्रश्‍न किया था कि मुसलमानों को इको फ्रेंडली उत्सव मनाने हेतु बताने का साहस आधुनिकतावादियों में है क्या ? इस संदर्भ में उन्होंने यह वक्तव्य दिया है । (मुसलमान मस्जिदों पर लगे भोंपू पूरे वर्ष चलाते हैं, पर हिन्दुआें के उत्सवों में हिन्दुआें पर ध्वनिप्रदूषण के कानून का डंडा चलाया जाता है । मुसलमान लाखों प्राणियों की हत्या कर प्रदूषण कर ईद मनाते हैं, पर हिन्दुआें के त्यौहारों के समय ही इको फ्रेंडली का धर्मद्रोही आवाहन किया जाता है, यह सब कहीं तो रुकना चाहिए । ऐसे में मलिक को क्या करना है, यह वे स्वयं तय करें ! - संपादक) (१० सितंबर)

१८ वर्ष की हिन्दू लडकी मुसलमान बच्चों को मंदिर में पढाती है कुरान !

     नई देहली - आगरा के संजयनगर कालोनी के मंदिर में पूजा कुशवाह नाम की १८ वर्षीय हिन्दू लडकी प्रतिदिन लगभग ३५ मुसलमान बच्चों को किसी भी प्रकार का शुल्क लिए बिना कुरान पढना सिखाती है । अरबी भाषा के कठिन स्वर योग्य उच्चारों के साथ करते हुए कुरान पढना सिखाती है ।  पूजा ने कहा कि कुछ वर्षों पूर्व हमारे घर के निकट संगीता बेगम रहती थीं । उसके पिता मुसलमान तथा मां हिन्दू थीं । (इसे लव जिहाद समझें क्या ? - संपादक) वे बच्चों को कुरान सिखाते थे । धीरे-धीरे मेरी भी कुरान पढने में रुचि उत्पन्न हुई और मैं उस वर्ग में जाने लगी । (हिन्दुओ, आपके बच्चे क्या सीखते हैं इस ओर ध्यान दें ! हिन्दू अपने बच्चों को धर्मशिक्षा नहीं देते, इसलिए अन्य धर्मीय उसका अनुचित लाभ उठाते हैं, यह इसी का उदाहरण है !  मंदिर, हिन्दुआें का धार्मिक स्थान है, वह अन्य धर्मियों को शिक्षा देने का स्थान नहीं है ! अन्य धर्मियों के धार्मिक स्थानों पर हिन्दुआें को धर्मशिक्षा देने की अनुमति मिलेगी क्या ? १८ वर्ष की अन्य धर्मीय लडकी हिन्दुआें को गीता सीखा सकती है क्या ? - संपादक) (१० सितंबर)

अलगाववादियों पर देशद्रोह का अपराध प्रविष्ट कर, उन्हें भारत से खदेड दें ! - अजमेर दर्गाह के दीवान सय्यद जैनुल आबेदीन अली खान

कितने मुसलमान नेता ऐसा बोलते हैं ? भारत के मुसलमान देशभक्त हैं,
तो वे हिन्दुआें के समान खुलकर देशद्रोहियों का विरोध क्यों नहीं करते ?
    अजमेर (राज.) - यहां के ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के दीवान सय्यद जैनुल आबेदीन अली खान ने कहा है कि कश्मीर के अलगाववादी पाक के आतंकवादियों से अधिक धोखादायक हैं । इन अलगाववादियों के विरोध में देशद्रोह का अभियोग प्रविष्ट कर, उन्हें कश्मीर से खदेड देना चाहिए । दीवान द्वारा बताए गए सूत्र
१. भारत की सेना शत्रु से लडने में सक्षम है; परंतु जब देश के अंतर्गत धर्म के नाम पर राजनीति कर युवाआें को धार्मिक कट्टरता सिखाकर उन्हें पथभ्रष्ट करने का षडयंत्र रचा जाता है, तब सेना को उसका विरोध करने में कठिनाई होती है । 

बलात्कार करने के हिंसक कृत्य पर अंकुश लगाने का एकमात्र उपाय है साधना !

डॉ. अजय जोशी
डॉ. अजय जोशी ने फ्रांस में पशुचिकित्सा तथा पशुसंवर्धन में स्नातकोत्तर शिक्षा प्राप्त की है । अब वे सनातन के रामनाथी आश्रम में पूर्णकालीन सेवा कर रहे हैं । पशुचिकित्सा की शिक्षा प्राप्त करते समय तथा नौकरी करते समय उनके ध्यान में आया कि प्राणी भी आचारधर्म का पालन करते हैं ।  उन्हें प्रतीत हुए प्राणियों के आचारधर्म संबंधी विशेषतापूर्ण सूत्र यहां दिए हैं ।
१. मतिभ्रष्ट हुए पुरुष का बलात्कार करते समय प्राणियों से भी निचले स्तर पर जाना
    भारत संसार के विकसित देशों में चौथे क्रमांक पर है । इसी भारत में प्रतिदिन ९२ स्त्रियों पर बलात्कार होते हैं । प्राणी जगत में सर्व आचरण उस नर-मादा के इच्छानुसार चलता है, उदा. गाय जब मिलनोत्सुक होती है, तभी वह सांड को स्वीकारती है । सांड भी गाय की इच्छानुरूप संभोग करता है।

एमनेस्टी इंटरनेशनल का भारतद्वेष !

श्री शिरीष देशमुख
१. देशद्रोह का आरोपी एमनेस्टी इंटरनेशनल संगठन !
गत कुछ दिनों से एमनेस्टी इंटरनेशनल नामक आंतरराष्ट्रीय (केवल नाम से) स्वयंसेवी संस्था (एन.जी.ओ.) की बहुत चर्चा हो रही है । इस संस्था ने बेंगलुरू में एक परिसंवाद आयोजित कर उसमें कश्मीर के जिहादियों के परिजनों को बुलाया था । इस परिसंवाद में जिहादियों के परिजनों पर हुए कथित अत्याचारों के विषय में दुष्प्रचार किया गया । पुलिस ने अब एमनेस्टी इंटरनेशनल के विरुद्ध देशद्रोह की धाराआें के अंतर्गत अपराध पंजीकृत कर जांच आरंभ कर दी है । इस बीच, इस संस्था ने अपने बेंगलुरू कार्यालय पर ताला लगा दिया है । इस लेख में, इस संस्था की जानकारी और उसकी भारत में अनावश्यकता पर प्रकाश डाला गया है ।

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भंग कर, लगाओ प्रतिबंध शरिया न्यायालयों पर !

    नई देहली - सर्वोच्च न्यायालय की वरिष्ठ मुसलमान अधिवक्ता फरहा फैज ने सर्वोच्च न्यायालय से संबंधित अभियोग की सुनवाई के समय मांग की थी कि तलाक और बहुपत्नीत्व पर प्रतिबंध लगाया जाए । इस मांग का ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड विरोध कर रहा है । अधिवक्ता फरहा फैज ने कहा कि ऐसा कर यह संगठन देश में इस्लामी कट्टरवाद फैला रहा है । साथ ही शरिया न्यायालय, देश की न्यायव्यवस्था पर अविश्‍वास दर्शाते हुए समांतर न्यायालय चला रहा है । इन दोनों सूत्रों के आधार पर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को भंग किया जाए तथा शरिया न्यायालयों पर प्रतिबंध लगाया जाए । फरहा फैज मुसलमान समाज में स्त्री-पुरुष समानता हेतु लड रही हैं । उन्होंने अपनी मांग की पुष्टि में न्यायालय के समक्ष सूत्रों का सारांश...
१. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड जैसे संगठन के कारण ही मुसलमान इस दुविधा में हैं कि धर्म श्रेष्ठ है या राष्ट्र ?

गोतस्करी का पैसा प्रयुक्त होता है जिहादी आतंकवाद के लिए ! - पुलिस उपमहानिरीक्षक भारती अरोरा, हरियाणा

     करनाल (हरियाणा) - पुलिस उपमहानिरीक्षक भारती अरोरा ने कहा, गोतस्करी से एकत्रित पैसा आतंकवाद के उपयोग में लाया जाता है । अत: हमें शीघ्रातिशीघ्र गोतस्करी और गोहत्या को रोककर आतंकवाद को नष्ट करना चाहिए । इसके लिए हमें संकल्प करना चाहिए कि इस हेतु हम सदैव तत्पर रहेंगे । वे अंबाला शहर में पुलिस प्रशिक्षण संस्था में आयोजित बैठक में बोल रही थीं । इस समय भारती अरोरा ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन द्वारा गोतस्करी रोकने के प्रयासों की विस्तृत जानकारी पुलिस को दी ।  (९ सितंबर)

मेरे साथ आप की ५२ महिलाआें पर आप के नेताआें ने किए यौन अत्याचार !

आम आदमी पार्टी का वास्तविक रूप !
सनातन ने हिन्दू धर्म का नाम कलंकित किया
ऐसा कहनेवाला आप कितना कलंकित है, यह ध्यान में आता है !
आप की पंजाब की महिला पदाधिकारी अमनदीप कौर का आरोप !
   चंडीगड - पंजाब के फिरोजपुर जनपद की आप की पूर्व समन्वयक तथा राज्य समिति की सदस्या अमनदीप कौर ने आरोप लगाया है कि मेरे साथ दल की ५२ महिला नेत्रियों तथा कार्यकर्ताआें पर आम आदमी पार्टी के नेताआें ने यौन अत्याचार किए हैं । एक अंग्रेजी समाचार-वाहिनी ने यह समाचार प्रकाशित किया है । इस आरोप के पश्‍चात पंजाब के राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा परमजीत कौर ने पंजाब पुलिस को पत्र द्वारा आम आदमी पार्टी के नेताआें की पूछताछ का आदेश दिया है ।  (१० सितंबर)

केरल में माकपा के कार्यकर्ताआें ने की संघ कार्यकर्ता की निर्मम हत्या !

केरल में सत्ताधारी माकपा के कार्यकर्ताआें का बढता अत्याचार !
हिन्दुत्वनिष्ठ संगठनों के नेताआें और कार्यकर्ताआें पर निरंतर
होनेवाले प्राणघाती आक्रमणों से देश में तथाकथितसहिष्णुता बढ रही है,
इसलिए सब धर्मनिरपेक्षतावादी और प्रचारमाध्यम चुप हैं । यह ध्यान में रखें ।
    कन्नूर (केरल) - यहां के थिल्लानकेरी में माकपा के कार्यकर्ताआें ने ३ सितंबर की रात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक २६ वर्षीय कार्यकर्ता बिनीश की निर्मम हत्या कर दी । वह  भाजपा के कार्य में भी भाग लेता था । हत्या की यह घटना तब हुई, जब २ घंटा पहले हुए बमविस्फोट में साम्यवादी दल का एक कार्यकर्ता घायल हो गया ।

चलचित्र (फिल्मों) के अश्‍लील शब्द और गानों से बिगड रही है युवा पीढी ! - चेन्नई उच्च न्यायालय

जो न्यायालय को दिखाई देता है, वह सरकार को क्यों नहीं दिखाई देता ?
    चेन्नई (तमिलनाडु) - चलचित्र के अश्‍लील शब्द और गानों से युवा पीढी के मन में बुरे विचार आते हैं, यह बात चेन्नई उच्च न्यायालय ने कही है । उसने आवाहन किया है चलचित्र क्षेत्र के लोग अपना सामाजिक दायित्व ध्यान में रखें । एक युवक ने चलचित्र का अश्‍लील गाना गाते हुए एक महिला से अभद्र व्यवहार किया था । इस प्रकरण में प्रतिभूति (जमानत) मिलने के लिए प्रस्तुत याचिका पर सुनवाई के समय न्यायमूर्ति एस. वैद्यनाथन् ने उपर्युक्त विचार व्यक्त किया । इस विषय में न्यायालय ने कहा, इसीलिए हमारा संस्कृतिक और नैतिक पतन हो रहा है । (न्यायालय को न केवल यह सत्य समाज के सामने रखना चाहिए, अपितु सरकार को अश्‍लीलता फैलानेवाले चलचित्र दिग्दर्शकों और निर्माताआें पर कठोर कार्यवाही करने का आदेश भी देना चाहिए ! - संपादक)   (११ सितंबर)

शिक्षाक्षेत्र में भारत ५० वर्ष पीछे ! - यूनेस्को

    नई देहली - यूनेस्को के एक प्रतिवेदन में लिखा है कि सबको शिक्षा देने के विषय में भारत ५० वर्ष पीछे है । इसमें यह भी लिखा है कि भारत प्राथमिक शिक्षा का ध्येय वर्ष २०५० में, कनिष्ठ शिक्षा का ध्येय वर्ष २०६० में और उच्च माध्यमिक शिक्षा का ध्येय वर्ष २०८५ में पूरा करेगा । 
१. ग्लोबल एजुकेशन मॉनिटरिंग के एक प्रतिवेदन के अनुसार भारत को सतत विकास करते रहने के लिए शिक्षाक्षेत्र में मौलिक परिवर्तन करने पडेंगे ।

हिन्दू मंदिर तोडने पर पाकिस्तान अधिवक्ता (वकील) ने की पाक सरकार की आलोचना !

    पेशावर (पाकिस्तान) - पाक के खैबरपख्तूनख्वा राज्य के करीमपुरा के वान्ग्री ग्रान स्थित प्राचीन हिन्दू मंदिर ध्वस्त कर वहां व्यवसायिक इमारत बनाई गई है । पेशावर उच्च न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता (वकील) मोज्जाम बट ने इसके विरुद्ध राज्य के पाकिस्तान तहरीक-ए-इन्साफ पार्टी की सरकार पर टिप्पणी की है । पूर्व क्रिकेट खिलाडी इमरान खान इस पार्टी के अध्यक्ष हैं । एक पत्रकार परिषद में अधिवक्ता मोज्जाम बट ने कहा, राज्यसरकार द्वारा लगाया गया पाबंदी आदेश तोडकर किसी ने यह मंदिर गिरा दिया है और वहां व्यवसायिक इमारत बनाई है ।

बांग्लादेश में हिन्दुआें के सिर पर लटक रही है मृत्यु की तलवार !

 ढाकेश्‍वरी देवी के मंदिर में कडी सुरक्षा ! 
हिन्दू पंडितों ने पारंपरिक वेश परिधान करना छोड दिया ! 
महिलाएं हाथों में चूडियां पहनने से घबरा रही हैं !
भारत के राजनेता बांग्लादेश के अल्पसंख्यक हिन्दुआें के लिए कुछ करेंगे, इस बात का भरोसा नहीं है । इसलिए अब हिन्दुआें को ही अपने बंधुआें की सुरक्षा के लिए संगठित होकर आवाज उठानी चाहिए ! हिन्दुआें पर हो रहे अत्याचारों के समय मानवाधिकारवाले कहां हैं ?
    ढाका (बांग्लादेश) - बांग्लादेश की निर्मिति से पूर्व वर्ष १९४७ में यहां २७ प्रतिशत अल्पसंख्यक थे, परंतु अभी उनकी संख्या घटकर केवल ९ प्रतिशत रह गई है । हिन्दू पंडितों और बौद्ध गुरुआें की चुन-चुन कर हत्या की जा रही है । इस कारण हिन्दुआें में भय दिन-प्रतिदिन बढता जा रहा है । बांग्लादेश के प्रसिद्ध ढाकेश्‍वरी मंदिर के पंडितजी ने भय व्यक्त करते हुए कहा है, हमारे लिए घर से बाहर निकलना भी दूभर हो गया है ।

अमरीका में विश्‍व हिन्दू एकता दिन मनाया गया !

फोरम फॉर हिन्दू अवेकनिंग का सहभाग
    न्यू जर्सी (अमेरिका) - यहां ओम क्रिया योग फाउंडेशन की ओर से ११ सितंबर २०१६ को विश्‍व हिन्दू एकता दिवस के रूप में मनाया गया । इस कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि के रूप में भाजपा के प्रसिद्ध नेता डॉ. सुब्रह्मण्यम् स्वामी उपस्थित थे । इस अवसर पर हिन्दु समाज की वर्तमान स्थिति, सनातन हिन्दू धर्म के विस्तृत ज्ञान के अभाव में युवा पीढी द्वारा धर्माचरण करने के विषय में आनेवाली अडचनें पर मार्गदर्शन किया गया । फोरम फॉर हिन्दू अवेकनिंग ने इस कार्यक्रम में सहभाग लिया ।

स्त्री एवं पुरुष के मस्तिष्क की कार्यपद्धति में अंतर नहीं ! - शोध का निष्कर्ष


लंदन (इंग्लैंड) - बर्मिगहैम के एस्टन विद्यापीठ के बोधशक्ति संबंधी मस्तिष्क वैज्ञानिक गिना रिपॉन ने कहा कि स्त्रियों तथा पुरुषों की मस्तिष्क की संरचना अलग पद्धति की होती है, इस बात का कोई आधार नहीं है । हमारे शोध के अनुसार हम एक स्पेक्ट्रम के सर्व भाग बायनरी पद्धति से जुडे हैं, ऐसा मान लेते हैं जिससे अनुचित निष्कर्ष निकलता है । हमारा मस्तिष्क तथा आचरण विविध गुणों के द्वार होते हैं तथा इस संदर्भ में पुरुष एवं स्त्रियों के मस्तिष्क में कुछ भी अलग नहीं होता । रिपॉन ने कहा कि वे यह शोध ब्रिटिश विज्ञान महोत्सव में स्वानसी में बतानेवाले हैं ।  (१७ सितंबर)

सनातन के साधक, अर्थात बडे आतंकवादी, ऐसा असत्य वातावरण पुलिस तथा प्रसारमाध्यमों द्वारा निर्माण करना

मडगांव विस्फोट प्रकरण में निर्दोष छूटे सनातन के साधकों और उनके परिजनों के कटु अनुभव !
     वर्ष २००९ में मडगांव में एक दुपहिया वाहन में विस्फोट होने से उसमें सनातन संस्था के दो साधकों की मृत्यु हो गई थी । ऐसा होते हुए भी सनातन संस्था की अपकीर्ति करने के उद्देश्य से कांग्रेस के संकेत पर कठपुतली समान नाचनेवाली पुलिस का बिना किसी पूर्वकल्पना के ही साधकों को बंदी बना लेना, उन पर थोपी गई अनेक भयावह धाराएं, झूठे साक्षीदार और झूठे प्रमाण, साधकों को दिए गए असहनीय शारीरिक और मानसिक कष्ट और उनके द्वारा भोगा गया कारागृह का नरकवास, प्रसिद्धिमाध्यम इत्यादि संबंधी जानकारी देनेवाली यह लेखमाला ।

विदेशी वृक्षों के संकट को पहचानकर, देशी वृक्षों का संवर्धन करें !

    आजकल विदेशी वृक्षों का संवर्धन किया जाता है । बरगद, पीपल, इमली, आम, नीम, कटहल जैसे बहुउपयोगी देशी वृक्षों की उपेक्षा कर क्याशिया, ग्लिरीसिडीया, फायकस, सप्तपर्णी, स्प्याथोडिया, रेन ट्री जैसे विदेशी वृक्षों का संवर्धन करने की पद्धति ही प्रचलित हुई है । १९७० के दशक में यूरोपियन देशों ने षड्यंत्र रचकर विश्‍व अधिकोष का ऋण देने के लिए भारत के सामने ग्लिरीसिडीया नामक वृक्ष भारतीय जंगलों में लगाने की शर्त रखी और तब से यह विषैला वृक्ष लगाया जाने लगा ।

सनातन के विविध आश्रमों में निम्नलिखित उपकरणों की आवश्यकता है !

     सनातन के आश्रमों में सैकडों साधक पूर्णकाल साधना करते हैं । इसके साथ ही राष्ट्रधर्म कार्य में अधिकाधिक समय देना संभव हो, इस हेतु यहां पूर्णकालिक साधकों तथा राष्ट्र एवं धर्म प्रेमियों की संख्या प्रतिदिन बढ रही है । इसके लिए इन आश्रमों में नीचे दी गई सूची के अनुसार, इन उपकरणों की शीघ्रता से आवश्यकता है । 

आध्यात्मिक पहेली - कर्मेंद्रियों द्वारा करने का प्रयोग

हाथ की उंगलियों के आगे के पोरों से किए सौम्य आघातों के परिणामों का प्रयोग
 अधिकांश नियतकालिकों में बौद्धिक स्तर की शब्दपहेलियां होती हैं । सनातन प्रभात आध्यात्मिक नियतकालिक होने से इस लेखमाला में आध्यात्मिक स्तर की पहेलियां दी हैं । इससे मानसिक, बौद्धिक व आध्यात्मिक स्तर की पहेलियों में भिन्नता ध्यान में आएगी ।
सामान्य जानकारी : पांच उंगलियों के नाम : कनिष्ठिका (सबसे छोटी), अनामिका (कनिष्ठिका के पास की), मध्यमा (बीच की), तर्जनी (अंगूठे के पास की) और अंगूठा

प्राणशक्ति (चेतना) प्रणाली में अवरोधों के कारण होनेवाले विकारों पर उपचार

(रोगनिवारण के लिए प्राणशक्ति (चेतना) प्रणाली के अवरोधों को स्वयं ढूंढकर दूर करना)
सनातन के आगामी आपातकाल के लिए संजीवनी ग्रंथमाला का नूतन ग्रंथ !

     संतों की भविष्यवाणी है कि आगामी तृतीय विश्‍वयुद्ध में परमाणु युद्ध और भीषण प्राकृतिक आपदाआें के कारण करोडों लोगों की मृत्यु होगी । इस दृष्टि से केवल आपातकाल की नहीं, अपितु अन्य समय भी उपयोगी सनातन का ग्रंथ प्राणशक्ति (चेतना) प्रणाली में अवरोध के कारण होनेवाले विकारों पर उपाय से आपको क्रमशः परिचित करवा रहे हैं ।

दशहरा (विजयादशमी) आश्‍विन शुक्ल दशमी (११ अक्टूबर)

शस्त्रपूजा
व्युत्पत्ति एवं अर्थ
    दश अर्थात दस एवं हरा अर्थात हार गए हैं । दशहरे के पहले नौ दिनों के नवरात्रि में दसों दिशाएं देवी की शक्ति से प्रभारित होती हैं एवं उनपर नियंत्रण प्राप्त होता है, अर्थात दसों दिशाओं के दिक्भव, गण इत्यादि पर नियंत्रण प्राप्त होता है, दसों दिशाओं पर विजय प्राप्त हुई होती है । यह नवरात्री का दसवां दिन है । त्यौहार मनाने की पद्धति इस दिन सीमोल्लंघन, शमीपूजन, महादोषों का निवारण करनेवाले अश्मंतक महावृक्षपूजन, अपराजिता देवी का पूजन एवं शस्त्रपूजा की जाते हैं ।

देवी का अनादरकारी चित्र, कलात्मक चित्र तथा स्पंदनशास्त्रानुसार बनाया गया सात्त्विक चित्र, इनमें से प्रक्षेपित स्पंदनों का प्रभाव जानने के लिए यू.टी.एस्. (Universal Thermo Scanner) से महर्षि अध्यात्म विश्‍वविद्यालय द्वारा किया वैज्ञानिक परीक्षण !

 श्री लक्ष्मीदेवी का अनादरकारी चित्र (यह चित्र किसी की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने हेतु नहीं,
अपितु हिन्दू देवताओं का किस प्रकार अनादर किया जाता है, केवल यह दर्शाने हेतु प्रकाशित किया है - संपादक)

हिन्दुआें को संगठित होकर अपनी शक्ति विश्‍व को दिखाना आवश्यक ! - पूज्य डॉ. चारुदत्त पिंगळे

देहली एवं वाराणसी में राष्ट्रीय हिन्दू आंदोलन
जंतरमंतर पर राष्ट्रीय हिन्दू आंदोलन करते हुए हिन्दू धर्माभिमानी
     नई देहली - हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय मार्गदर्शक पूज्य डॉ. चारुदत्त पिंगळेजी ने जो सनातन संस्था हिन्दुआें को राष्ट्रप्रेम और धर्मशास्त्र सिखाती है, उसके साधकों को बिना प्रमाण के बंदी बनाना, अनुचित है । कॉ. पानसरे हत्या प्रकरण में पनवेल के सनातन आश्रम में दिन विशेष पुलिस का जांचदल जांच करने आया ।

भृगुसंहिता व शिवसंहिता का रामनाथी स्थित सनातन आश्रम में शुभागमन होने के पहले और पश्‍चात हुई भावानुभूतियां

श्रावण पूर्णिमा (१८.८.२०१६) को भृगु महर्षि का अवतरण दिन था, इस उपलक्ष्य में...
महर्षि भृगु

परात्पर गुरु डॉ. जयंत आठवले प्रत्येक प्राणी का हित सोचते हैं और सभी पर प्रेम करते हैं !

डॉ. विशाल शर्मा और भृगुसंहिता के माध्यम से महर्षि द्वारा बताई
परात्पर गुरु डॉ. जयंत आठवलेजी की विशेषताएं और दिया आशीर्वाद !
संहितावाचन करते हुए डॉ. विशाल शर्मा
और साथ में डॉ. सुनील चोपडा
    भृगुसंहिता और शिवसंहिता का वाचन करनेवाले होशियारपुर, पंजाब के डॉ. विशाल शर्मा तथा भृगुसंहिता का वाचन करनेवाले नाथद्वारा, राजस्थान के डॉ. सुनील चोपडा का ३१ जुलाई २०१६ को रामनाथी, गोवा के सनातन आश्रम में शुभागमन हुआ । उस रात और १ अगस्त २०१६ को डॉ. विशाल शर्मा ने आश्रम में भृगुसंहिता का पाठ किया । उसका समाचार यहां दे रहे हैं ।
३१ जुलाई २०१६
     डॉ. विशाल शर्मा ने पहले महर्षि से पूछा, सूर्य कर्कराशि में है । आज श्रावण द्वादशी और रविवार है । ऐसी ग्रहदशा में कौन-सा योग और फल कैसा है ? इस प्रश्‍न का जो उत्तर महर्षि भृगु ने  दिया, वह आगे दे रहे हैं ।

कांग्रेस भाजपा को हिन्दू पाकिस्तान नहीं बनाने देगी ! - शशी थरूर, कांग्रेस

वैचारिक रूप से धर्मपरिवर्तित हो चुकी कांग्रेस ! 
     कांग्रेसियों एवं अन्य आधुनिकतावादियों को लगता है कि पाक इस्लाम राष्ट्र बनने पर वहां जिहादी आतंकवाद एवं कट्टरतावाद निर्माण हुआ, उस प्रकार भारत में हिन्दू राष्ट्र स्थापित होने पर हो सकता है । परंतु  हिन्दु धर्म की विचारधारा अन्य धर्मियों को मारना, उनकी संपत्ति लूटना, उनकी स्त्रियों पर बलात्कार करना, इस प्रकार की कभी भी नहीं थी । वह सदैव वसुधैव कुटुम्बकम् की है । इसलिए भारत हिन्दू राष्ट्र बनने पर वह कभी भी पाकिस्तान जैसे कट्टरतावादी नहीं बनेगा, परंतु यदि अल्पसंख्यक मुसलमानों की जनसंख्या बढ गई, तो भारत निश्‍चित ही इस्लामिस्तान बन जाएगा !
    जयपुर (राजस्थान) - जिस प्रकार पाकिस्तान इस्लामिक देश बना है, उसी प्रकार भाजपा भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने में लगी है ।

जमशेदपुर (झारखंड) में दुर्गा पूजा समिति की वार्षिक सभा में हिन्दू जनजागृति समिति का सहभाग !

    जमशेदपुर (झारखंड) - यहां के  जमशेदपुर दुर्गा पूजा केंद्रीय समिति की सर्वसाधारण वार्षिक सभा हुई । इसमें जमशेदपुर की ३०६ दुर्गा पूजा समितियां उपस्थित थी । इस समय केंद्रीय समिति के अध्यक्ष श्री. तारा चंद मोहांती, उपाध्यक्ष श्री. राम बाबू सिंह, हिन्दू जनजागृति समिति के पूर्व तथा पूर्वोत्तर भारत समन्वयक
श्री. चित्तरंजन सुराल एवं कई मान्यवर उपस्थित थे ।

ट्विटर पर चलाए जा रहे सनातनविरोध का धर्मप्रेमियों ने किया प्रखर विरोध !

    ८ सितंबर २०१६ को दिनभर ट्विटर पर डॉ. दाभोलकर प्रकरण में बंदी बनाए गए डॉ. वीरेंद्रसिंह तावडे के विषय में ३ टे्रंड चल रहे थे । इसमें सनातन संस्था भी सहभागी हुई । सनातन के अधिकृत खाते से (twitter.com/sanatansanstha) इस घटना की सत्यता दर्शानेवाले ट्विट्स किए गए । उसका ब्योरा संक्षेप में नीचे दिया है । इन ट्विट्स द्वारा धर्मप्रेमियों ने सनातन का समर्थन किया ।

१८ अधिवक्ताआें का हिन्दू विधिज्ञ परिषद के कार्य में सहभागी होने का निर्धार !

असम में हिन्दू विधिज्ञ परिषद की बैठक में अधिवक्ताआें का उत्स्फूर्त प्रतिसाद !
धर्माभिमानी अधिवक्ताआें से संवाद
करते हुए (बाएं से पहले) श्री. विश्‍वनाथ कुंडू
      धुबडी (असम) - हिन्दू विधिज्ञ परिषद की ओर से  यहां के कालीबाडी मंदिर के सभागृह में ५ सितंबर को    अधिवक्ताआें की बैठक का आयोजन किया गया ।

सार्वजनिक गणेशोत्सव में सनातन संस्था एवं हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से धर्मशिक्षा !

गणेशोत्सव में सनातन संस्था एवं हिन्दू जनजागृति 
समिति के कार्यकर्ताआें द्वारा लगाए गए फलक
    देहली - यहां के लाजपतनगर में श्री गणेश मंडल द्वारा आयोजित किए गए सार्वजनिक गणेशोत्सव में साथ ही यहां के पुष्प विहार सेक्टर ४ में हुए गणेशोत्सव में सनातन संस्था एवं हिन्दू जनजागृति समिति के कार्यकर्ताआें ने सहभाग लिया ।

बकरी ईद के दिन ऊंटों की हत्या पर पाबंदी लगाने के लिए अधिवक्ताआें का वाराणसी मंडल-वाराणसी के आयुक्त महोदय को निवेदन !

वाराणसी के आयुक्त को निवेदन देते हुए शहर के अधिवक्ता
वाराणसी (उत्तरप्रदेश)- बकरी ईद के निमित्त से वाराणसी के मदनपुरा (पंचपेडवा), जमालुद्दीनपुरा एवं सलेमपुरा में ऊंटों का कत्ल  किया जाता है ।

हिन्दू जनजागृति समिति का हिन्दू नारी संसद में सहभाग

    गाजियाबाद (उ.प्र.) - आज तक भारतवर्ष में महिलाआें पर इस्लामिक जिहादियों द्वारा अत्याचार होते आए हैं; परंतु कोई भी मीडिया ये सत्य नहीं दिखाता । हमारा प्रशासन भी निष्क्रिय है । हिन्दू समाज को इस विषय में जागृत करने के लिए हिन्दू स्वाभिमान संगठन द्वारा डासना में दो दिवसीय हिन्दू नारी संसद का आयोजन किया गया । संसद की अध्यक्षता संस्कार भारती की प्रांत महिला प्रमुख तथा पूर्व सभासद श्रीमती बीना गोयल ने निभाई । मध्यप्रदेश, भाग्यनगर, देहरादून, जयपुर, प्रयाग आदि स्थानों से आई महिलाआें ने अपने वक्तव्य रखे ।

सनातन संस्था द्वारा राधा अष्टमी के अवसर पर ग्रंथ-प्रदर्शनी !

    फरीदाबाद (हरियाणा) - यहां राधा अष्टमी के अवसर पर भजन संध्या का आयोजन किया गया था । इस कार्यक्रम में सनातन संस्था द्वारा आध्यात्मिक और धार्मिक ग्रंथों और सात्त्विक सामग्री की प्रदर्शनी लगाई गई, जिसका लाभ लगभग २०० भक्तों ने लिया ।
क्षणिका : सनातन प्रभात के १५ वर्षों से पाठक रहे श्री. नरेश गोयल ने इस प्रदर्शनी के आयोजन हेतु संस्था को आमंत्रित किया था ।

संतकृपा प्रतिष्ठान की ओर से तनाव मुक्त जीवन पर प्रवचन !

    फरीदाबाद (हरियाणा) - यहां के बल्लभगड में टैगोर एकेडमी स्कूल में १४ सितंबर को संतकृपा प्रतिष्ठान की ओर से तनाव मुक्त जीवन हेतु क्या करें ? इस विषय पर प्रवचन लिया गया । संस्था की श्रीमती संदीप कौर मुंजालजी ने प्रवचन में तनाव निर्माण होने के विविध कारण एवं उसपर उपाय बताए । स्वयं में गुणों के विकास से किस प्रकार हम तनाव मुक्त रह सकते हैं और अपने व्यक्तित्व का विकास कर सकते है यह भी बताया । इसका लाभ ७० शिक्षकों ने लिया ।